HomeUttarakhandShri Ram College of Commerce के छात्रों द्वारा UTTARA- IV का शुभारंभ...

Shri Ram College of Commerce के छात्रों द्वारा UTTARA- IV का शुभारंभ होने जा रहा-

उत्तराखंड: Shri Ram College of Commerce का वित्तीय साक्षरता प्रकोष्ठ, उत्तराखडं और हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में हित धारक जड़ुाव और सामुदयिक योजना कार्यक्रर्यमों के माध्यम द्वार वित्तीय जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से UTTARA 4.0 – विशेष परियोजना 3 जनू 2023 से शरू करने जा रहे है।

वित्तीय साक्षरता की लहरों से यमुना किनारों को सुशोभित करने के आदर्श वाक्य के साथ ,उत्तराखडं में उत्तरकाशी जिले के नौगांव और बड़कोट के क्षेत्रों को लक्षित करते हुए इस वर्ष 3 जनू 2023 से 8 जनू 2023 तक परियोजना की शुरुआत होने जा रही है। योजना का उद्घाटन देहरादनू में उत्तराखंड के डीजीपी द्वारा 3 जनू 2023 को किया जायेगा।

यह भी पढ़े: Uttarakhand वन विभाग की रायपुर रेंज ने पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

Shri Ram College of Commerce की स्थापना 1926 में प्रमुख उद्योगपति लाला श्री राम द्वारा की गई थी और इसकी स्थापना के बाद से देश में वाणिज्य और अर्थशर्थास्त्र के क्षेत्र में बेहतरीन शिक्षा प्रदान करने की विरासत को विकसित और संरक्षित किया गया है।

Shri Ram College of Commerce

वित्तीय रूप से सशक्त समाज को बढ़ावा देने की दृष्टि से वित्तशाला, एसआरसीसी ने अब तक तीन चरणों का सफलता पर्वूक संचालन किया है। पहला चरण उत्तराखडं के पिथौरागढ़ जिले में 1000 लोगों के जीवन को प्रभावित करने और 500 घरों के सर्वेक्षण के साथ किया गया था।

Join whatsapp Group for more News update (click here)

दसूरा चरण हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में मरूंग, ख्वांगी, दीनू, चितकुल, रकछम और सांगला में किया गया, जिसमे 500 लोगों को प्रभावित किया। तीसरा चरण उत्तराखडं के टिहरी गढ़वाल जिले में ननै बाग, पतं वारी, बडांसरी, कैंप्टी, खरसोन, भटोली और मोगी में आयोजित किया गया, जिसमें 1500 लोगों के जीवन को पुनर्जीवित किया गया।

प्रोजेक्ट उत्तरा के UTTARA 4 का उद्देश्य मुख्य रूप से उत्तरकाशी जिले में है जिसकी अपेक्षाकृत अधिक ऊंचाई के कारण विकास का मार्ग एक कठिन यात्रा है। वित्तशाला द्वारा इस वर्ष का उद्देश्य वित्तीय साक्षरता को यमुना के उद्गम स्थल से लेकर दिल्ली के किनारों तक फैला ने पर केंद्रित है। विभिन्न योजनाए वहां के लोगों को उनके क्षितिज के ज्ञान का विस्तार करने में मदद करेंगी।

प्रोजेक्ट उत्तरा 4.0 के तहत, स्थानीय लोगों को वित्तीय रूप सेसाक्षर बनाने और अपने कार्यक्षेत्र का विस्तार करने के उद्देश्य से 3 से 8 जनू , 2023 की समय सारिणी मे उत्तरकाशी जिले, उत्तराखडं के लगभग 12 गांवों, 500 घरों, 1500 व्यक्ति यों को प्रभावित करने का अनुमान लगाते हुए, सामंजस्य स्थापित करेंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular